रिकॉर्डिंग कार्यनीति

रिकॉर्डिंग कार्यनीति

जीआरएन की सेवकाई के तीन मुख्य अंग हैं: रिकौर्डिंग, वितरण और बढ़ावा.

रिकॉर्डिंग कार्यनीति

जीआरएन अनेक देशों से रिकॉर्ड करने वालों, शोध करने वालों, और अन्य निपुण लोगों को भरती करता है, उन्हें प्रशिक्षण देता है और उन्हें सामग्री से लैस करता है. ये रिकॉर्डिंग दल फिर प्राथमिकता वाले भाषा समूहों की पहचान करता है, फिर सेवकाई में लगे अन्य सहयोगियों के साथ विचार करके, उचित लेख तैयार करे जाते हैं जिनसे फिर स्थानीय भाषा बोलने वाले लोगों के साथ उचित सांसकृतिक संदर्भ में उच्च गुणवन्ता वाले ऑडियो तथा ऑडियो-विज़ुअल कार्यक्रम तैयार किए जाते हैं.

हमारे कार्यक्रमों का मुख्य उद्देश्य प्रभु यीशु के सुसमाचार को बाइबल की कहानियों, उनके संक्षिप्त स्पष्टिकरण और लोगों से प्रतिक्रीया लेने के द्वारा सरल और प्रभावी रीति से बताना है. हमारा उद्देश्य लोगों को प्रभु यीशु का शिष्य और उसकी मण्डली के स्दस्य बनते देखना है

हमने उन भाषाओं में भी रिकौर्डिंग करने के तरीके बनाए हैं जो कभी लिखी नहीं गईं और जिनमें कोई भी साक्षर जन नहीं है. ठीक प्रचार सामग्री के लिए उसको जाँचना आवश्यक है.

कोई कबीला बहुत छोटा या कोई गाँव बहुत दूर नहीं है. प्रत्येक को अपनी भाषा और ऐसे तरीके से सुसमाचार सुनने का हकदार है जो उनके हृदय से बातें करता है क्योंकि "सुनना वचन से होता है" (रोम 10:17)

वितरण कार्यनीति

हम इन कार्यक्रमों को यथासंभव बहुतायत से उपलब्ध करवाना चाहते हैं. ये संसार भर में हमारे 30 से अधिक कार्यस्थलों और हमारी वेबसाईट से मुफ़्त डाउनलोड के लिए उपलब्ध हैं. हमारे अपने प्रचार दल, अनेक मिशनरी, सुसमाचार प्रचारक और चर्च स्थापन करने वाले हमारी सामग्री को लेते और प्रयोग करते हैं. अंतराष्ट्रीय सहयोगी हमारी सामग्री को और भी अधिक श्रोताओं तक इंटरनैट के द्वारा, माइक्रो एसडी कार्डों तथा अन्य ठोस माध्यमों द्वारा व्यापक रूप से फैलाते हैं. हम बजाने के लिए विशिष्ट ऑडियो यंत्र और मोबाइल फ़ोन के लिए विशिष्ट एप्प्स भी बनाते हैं.

बढ़ावा कार्यनीति

व्यक्तिगत संपर्क और मीडिया के माध्यम से हम जीआरएन के उद्देश्य को व्यापक रीति बताना चाहते हैं जिससे लोगों को इसमें प्रार्थना, आर्थिक सहायता तथा व्यक्तिगत रीति से सम्मिलित होने का अवसर मिले.

संबंधित जानकारी

और अधिक जानकारी प्राप्त करें