जीवन दायक वचन - Poqomchi': Oriental

क्या यह रिकॉर्डिंग उपयोगी है?

लघु ऑडियो बाइबल कहानियाँ, सुसमाचार सन्देश जिनमें संगीत तथा गीत भी हो सकते हैं. ये उद्धार के बारे में समझाते हैं तथा बुनियादी मसीही शिक्षाएं प्रदान करते हैं. प्रत्येक प्रोग्राम लेखों का चुना हुआ और सांस्कृतिक दृष्टिकोण से प्रासंगिक संकलन है, जिसमें गीत तथा संगीत भी हो सकता है.

प्रोग्राम संख्या: 5801
भाषा का नाम: Poqomchi': Oriental

प्रोग्राम की अवधि:

डाउनलोड और मंगाना

यह रिकॉर्डिंग अभी ऑनलाइन उपलब्ध नहीं है.

यदि आप इसमें कोई भी अप्रकाशित या वापस ले ली गई सामग्री को प्राप्त करने में रुचि रखते हैं, तो कृपया जीआरएन वैश्विक स्टूडियो से संपर्क करें.

Copyright © 1962 Global Recordings Network. This recording may be freely copied for personal or local ministry use on condition that it is not modified, and it is not sold or bundled with other products which are sold.

हम से संपर्क करें for inquiries about allowable use of these recordings, or to obtain permission to redistribute them in ways other than allowed above.

इस रिकॉर्डिंग को सीडी या अन्य किसी मीडिया पर मंगाने के लिए, या अपनी स्थानीय सेवाकाई संबंधी परिस्थितियों की जानकारी के लिए या इस सामग्री को प्रभावी रीति से प्रयोग करना सीखने के लिए, अपने निकटतम जीआरएन दफतर से संपर्क करें. ध्यान करें कि सभी रिकॉर्डिंग्स या सभी प्रकार के मीडिया प्रत्येक दफ्तर में उपलब्ध नहीं हैं.

रिकॉर्डिंग्स को बनाना महंगा कार्य है. कृपया इस सेवकाई को ज़ारी रखना संभव करने के लिए जीआरएन को दान देने पर विचार करें.

हमें आप से जानने की बहुत अभिलाषा है कि आप इस रिकॉर्डिंग को कैसे प्रयोग कर सकते हैं, और आपको क्या परिणाम प्राप्त हुए. प्रतिक्रीया के लिए संपर्क करें.

हमारी ऑडियो रिकॉर्डिंग्स के बारे में

जीआरएन के पास ऑडियो बाइबल कथाएँ, बाइबल पाठ, बाइबल अध्ययन सामग्री, सुसमाचार गीत, एमपी3 मसीही संगीत और सुसमाचार संदेश 6,000 से अधिक भाषाओं और बोलियों में ऑनलाइन उपलब्ध है, जिनमें से अधिकांशतः मुफ्त डाउनलोड के लिए हैं. मसीही मिशन संगठनों और मसीही चर्चों में लोकप्रिय ये मुफ्त एमपी3 और लेख, सुसमाचार प्रचार में उपयोग और चर्च स्थापना के लिए तथा मसीही चर्च वातावरण में उपयोग के लिए भी उपयुक्त हैं. ये बाइबल कहानियाँ, गीत और लेख उस भाषा को मातृभाषा के रूप में प्रयोग करने वालों की आवाज़ में रिकॉर्ड किए गए हैं और इनमें प्रभु यीशु मसीह के सुसमाचार को उस भाषा तथा समाज के लिए प्रासंगिक सांसकृतिक रीति से प्रस्तुत किया गया है, विशेषतः मौखिक समाज के लिए.

संबंधित जानकारी